Tiger Eye Stone टाइगर आई/चित्ती पत्थर बाघ आंख के चमत्कारी लाभ

tiger-eye-stone-tantraastro

” टाइगर रत्न ” सबसे अधिक प्रभावी तथा बहुउपयोगी एवं शीघ्र फल प्रदान करने वाला स्टोन है। इस रत्न पर टाइगर के समान पिली एवं काली धारिया होने के कारण इसे ” टाइगर रत्न ” कहते है। यह प्रभाव में भी चीते के समान त्वरित फल प्रदान करता है। इसे धारण करने से तुरन्त फल की प्राप्ति हो जाती है। जो व्यकित आत्म विश्वाश की कमी के कारण बार बार व्यापार एवं अन्य कार्यो से असफल होता हो या दुखी जीवन व्यतीत कर रहा हो, उस व्यकित को टाइगर स्टोन गजब का का आत्म विश्वाश प्रदान करता है। इसे धारण करने से हर क्षेत्र में पूर्ण सफलता मिलती है तथा व्यकित साहसी एवं पुरुषार्थी बनता है। शेर जैसा आत्म बल और साहस भी यह रत्न प्रदान करता है। डरपोक और उदासीन व्यक्तियों का यह रत्न अदृश्य साथी माना गया है।

यह रत्न उन व्यक्तियों के लिए भी शुभ फल प्रदान करता है। जिनका भाग्य सोया हुआ हो। सोए भाग्य से आशय है कि व्यक्ति अपने प्रयासों का पूर्ण फल नही ले पा रहा हो। मेहनत का फल बराबर नही मिल रहा हो, पग-पग पर विभिन्न परेशानियों एवं संघर्षो का सामना कर पड़ रहा हो। जीवन में मृत्यु तुल्य दुःख भोग रहा हो, यश कीर्ति की कमी हो , दुश्मनों से परेशान हो, गरीबी, दरिद्रता जाने का नाम ना ले रही हो। ऐसी सिथति में टाइगर स्टोन वरदान साबित होता है । इसे प्राण प्रतिष्ठा सिद्ध करवा कर धारण करने से हर प्रकार के दुखों से निजात मिलती है। सोए हुए भाग्य को टाइगर स्टोन जगा देगा। यदि आप अन्य ग्रहों को भी इस टाइगर स्टोन से जगाना चाहते है तो निम्न प्रकार से टाइगर स्टोन को धारण करे। यह एक रत्न सभी ग्रहों को जगाने का बल रखता है।

टाइगर स्टोन पहनने के लाभ –

  • ✅जिसका व्यापार घाटे में जा रहा हो , सरकार संबंधित परेशानियां बढ़ती जा रही हो , व्यापार में लगातार घाटा बढ़ता जा रहा हो तो टाइगर स्टोन शुक्ल पक्ष के बुधवार को बुध की होरा में अनामिका उंगली में धारण करे।
  • कार्य स्थल पर व अन्य जगहों से मान – सम्मान , प्रतिष्ठा , प्रसिद्धि प्राप्त करने व यश ,कीर्ति की पताका फहराने के इच्छुक टाइगर स्टोन शुक्ल पक्ष की अष्टमी को तर्जनी उंगली या अनामिका उंगली में धारण करे।
  • जिस व्यकित का विवाह नही हो रहा हो सगाई तक भी ना हो पा रही हो उस जातक को शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि या गुरु पुष्य योग में धारण करने से शीघ्र विवाह के योग बनते है।
  • जिस लड़की का विवाह ना हो रहा हो सगाई टूट जाती हो , सगाई हो ही नही पा रही हो उस लड़की को टाइगर रत्न नाग पंचमी के दिन या गुरु पुष्य योग में इसे धारण करने से शीघ्र ही विवाह के योग बनते है।
  • जिन व्यकितयों के सन्तान होती है मर जाती है या बार – बार आबर्शन हो जाता है तब ऐसी सिथति में दोनो पति-पत्नी बराबर वजन का टाइगर रत्न प्राण प्रतिष्ठा करवा कर शुक्ल पक्ष में जब स्त्री मासिक धर्म में हो तब धारण करे तुरंत लाभ होगा।
  • जिस घर में लड़ाई – झगड़ा अधिक होता हो , सुख शांति न हो , छोटी – छोटी बातों पर क्लेश हो जाता हो तो उस परिवार का मुखिया टाइगर रत्न सोमवार के दिन चंद्र की होरा में आम के पत्ते के रस का अभिषेक करवा कर धारण करे । टाइगर रत्न सिद्ध व प्राण प्रतिष्टित होना चाहिये।
  • यदि आप कर्ज में डूबते जा रहे हैं तो कर्ज मुक्ति के लिए शुक्रवार के दिन अभिमंत्रित किया हुआ टाइगर आई रत्‍न को गले में लॉकेट के रूप में श्वेत धागे में धारण करें।
  • शत्रुओं से परेशान व्यकित मंगलवार के दिन मंगल की होरा में टाइगर स्टोन धारण करे।
  • घर में जिन बच्चों या व्यक्तियों को बार – बार नजर लग जाती हो उन्हें टाइगर स्टोन गले में धारण करना चाहिये। 
  • बार-बार वाहन दुर्घटना हो जाती हो तो प्राण प्रतिष्ठित टाइगर स्टोन मंगलवार के दिन धारण करे।
  • यदि आप निरन्तर कर्जे में डूबते जा रहे हो तो शुक्रवार के दिन सिद्ध किया हुआ टाइगर स्टोन गले में लॉकेट के रूप में सफेद धागे में धारण करे।
  • जिन व्यक्तियों को नोकरी में समस्या आ रही या कार्यस्थल में परेशानी हो रही हो तो रविवार को सूर्य की होरा में टाइगर स्टोन धारण करने से लाभ होगा।
  • काले जादू और बुरी नजर से बचने के लिए टाइगर आई स्‍टोन (Tiger Eye stone) सबसे कारगर उपाय है।

close

🕶 Relax!

Put your feet up and let us do the hard work for you. Sign up to receive our latest deals directly in your inbox.

We’ll never send you spam or share your email address.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *