Sale!

500.00

मोती शंख के चमत्कार :-

  1. मोती शंख को ” दारिद्र्य -निवारक” कहा गया है। जिसे साक्षात मां लक्ष्मी का ही स्वरूप माना जाता है। अतः यदि इस शंख को घर, व्यापार स्थल या कारखाने में स्थापित किया जाए तो स्वतः ही उसकी सम्पूर्ण दरिद्रता समाप्त हो जाती है और घर व्यापार में आशातीत वृद्धि और सुख समृद्धि का वास होने लग जाती है ।
  2. यदि सिद्ध प्राण-प्रतिष्ठित मोती-शंख अपने पूजा स्थान में रखा / स्थापित किया जाए तथा उसमें जल भरकर लक्ष्मी के चित्र पर चढाया जाए तो लक्ष्मी प्रसन्न होती है और आर्थिक उन्नति होना प्रारंभ हो जाती है ।
  3. मोती शंख को अपने बिस्तर के नजदीक रखें। इससे कमरे के आस-पास की नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और पति-पत्नी में प्रेम बढ़ेगा ।
  4. मोती शंख में चावल भरकर मानसिक रोग से ग्रस्त व्यक्ति के सिर के ऊपर से सात बार उतार कर जल में प्रवाहित कर देने से उसे रोग से मुक्ति मिल सकती है ।
  5. अगर आप लगातार धन की कमी का सामना कर रहे है तो मोती शंख के इस्तेमाल से अपनी धन की कमी को दूर कर सकते है ।
  6. मोती शंख आर्थिक कमी को दूर करने में सक्षम होता है, इस शंख को घर में रखने से कई प्रकार के फायदे होते है, मोती शंख को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ता है और सदस्यों को मानसिक शांति मिलती है ।
  7. मोती शंख को तिजोरी में रखना काफी शुभ माना जाता है, तिजोरी में रखने से तिजोरी हमेशा पैसो से भरी रहती है ।
  8. मोती शंख को रात्रि में पानी से भरे किसी कांच के बर्तन में रखें। प्रातः उस पानी को पी लें। यह क्रिया रोज करें, चेहरे पर चमक व कांति आएगी पेट और आंतों से जुड़ी कई प्रकार के रोग दूर होंगे ।
  9. इस शंख को रोज चेहरे पर हल्के-हल्के फेरें, जिससे आपका चेहरा मोती की तरह चमकने लगेगा। यह क्रिया करने से लड़कियों के चेहरों पर पड़ने वाले दाग व मुंहासे शीघ्र दूर होने लगते हैं ।
  10. मोती शंख को लक्ष्मी स्वरूप माना गया है, अगर मोती शंख बिना सिद्ध किए भी घर में रखा जाए तो भी लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है, घर में खुशियां सुख समृद्धि और वैभव का निवास होता है ।
  11. शुक्रवार के दिन शंख को साफ धोकर इसमें शुद्ध जल भरकर पूजन करने से समृद्धि प्राप्त होती है, शंख में भरा जल पीना और इसका जल अपनी पूरे घर और आंगन में छिड़कना बेहद अच्छा होता है ।
  12. मोती शंख को घर में स्थापित कर दें और रोज इस मंत्र का जप “ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मये नमः” 11 बार बोलकर एक-एक चावल का दाना शंख में डाले, इस प्रकार 108 दाने इस शंख में डालें और इस प्रकार 11 दिन तक प्रयोग करें, यह प्रयोग इतना शकतिशाली है कि यदि इसे कोई भी व्यक्ति लगातार करे तो व्यक्ति की जन्म – जन्म कि दरिद्रता दूर हो जाती है ।
  13. यदि घर में कोई बहुत बीमार हो, तो मोती शंख में जल भर कर पूजा घर में रखें और दवाई का सेवन मोती शंख के जल से करवाएं, बीमार में सुधार आने लगेगा और वह शीघ्र ही पूरी तरह ठीक हो जाएगा ।

Description

मोती शंख के चमत्कार :-

✅मोती शंख को ” दारिद्र्य -निवारक” कहा गया है। जिसे साक्षात मां लक्ष्मी का ही स्वरूप माना जाता है। अतः यदि इस शंख को घर, व्यापार स्थल या कारखाने में स्थापित किया जाए तो स्वतः ही उसकी सम्पूर्ण दरिद्रता समाप्त हो जाती है और घर व्यापार में आशातीत वृद्धि और सुख समृद्धि का वास होने लग जाती है ।

✅यदि मन्त्र सिद्ध प्राण-प्रतिष्ठित मोती-शंख अपने पूजा स्थान में रखा / स्थापित किया जाए तथा उसमें जल भरकर लक्ष्मी के चित्र पर चढाया जाए तो लक्ष्मी प्रसन्न होती है और आर्थिक उन्नति होना प्रारंभ हो जाती है ।

✅मोती शंख को अपने बिस्तर के नजदीक रखें। इससे कमरे के आस-पास की नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और पति-पत्नी में प्रेम बढ़ेगा ।

✅मोती शंख में चावल भरकर मानसिक रोग से ग्रस्त व्यक्ति के सिर के ऊपर से सात बार उतार कर जल में प्रवाहित कर देने से उसे रोग से मुक्ति मिल सकती है ।

✅अगर आप लगातार धन की कमी का सामना कर रहे है तो मोती शंख के इस्तेमाल से अपनी धन की कमी को दूर कर सकते है ।

✅मोती शंख आर्थिक कमी को दूर करने में सक्षम होता है, इस शंख को घर में रखने से कई प्रकार के फायदे होते है, मोती शंख को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ता है और सदस्यों को मानसिक शांति मिलती है ।

✅मोती शंख को तिजोरी में रखना काफी शुभ माना जाता है, तिजोरी में रखने से तिजोरी हमेशा पैसो से भरी रहती है ।

✅मोती शंख को रात्रि में पानी से भरे किसी कांच के बर्तन में रखें। प्रातः उस पानी को पी लें। यह क्रिया रोज करें, चेहरे पर चमक व कांति आएगी पेट और आंतों से जुड़ी कई प्रकार के रोग दूर होंगे ।

✅इस शंख को रोज चेहरे पर हल्के-हल्के फेरें, जिससे आपका चेहरा मोती की तरह चमकने लगेगा। यह क्रिया करने से लड़कियों के चेहरों पर पड़ने वाले दाग व मुंहासे शीघ्र दूर होने लगते हैं ।

✅मोती शंख को लक्ष्मी स्वरूप माना गया है, अगर मोती शंख बिना सिद्ध किए भी घर में रखा जाए तो भी लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है, घर में खुशियां सुख समृद्धि और वैभव का निवास होता है ।

✅शुक्रवार के दिन शंख को साफ धोकर इसमें शुद्ध जल भरकर पूजन करने से समृद्धि प्राप्त होती है, शंख में भरा जल पीना और इसका जल अपनी पूरे घर और आंगन में छिड़कना बेहद अच्छा होता है ।

✅मोती शंख को घर में स्थापित कर दें और रोज इस मंत्र का जप “ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मये नमः” 11 बार बोलकर एक-एक चावल का दाना शंख में डाले, इस प्रकार 108 दाने इस शंख में डालें और इस प्रकार 11 दिन तक प्रयोग करें, यह प्रयोग इतना शकतिशाली है कि यदि इसे कोई भी व्यक्ति लगातार करे तो व्यक्ति की जन्म – जन्म कि दरिद्रता दूर हो जाती है ।

✅यदि घर में कोई बहुत बीमार हो, तो मोती शंख में जल भर कर पूजा घर में रखें और दवाई का सेवन मोती शंख के जल से करवाएं, बीमार में सुधार आने लगेगा और वह शीघ्र ही पूरी तरह ठीक हो जाएगा ।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Natural Energized Moti Shankh, Pearl conch (अभिमंत्रित मोती शंख)”

Your email address will not be published.